Skip to main content

Posts

Showing posts from August, 2017

Nokia 6 एंड्राइड स्मार्टफ़ोन की 30 अगस्त को होगी अगली सेल

Nokia 6 एंड्राइड स्मार्टफ़ोन की 30 अगस्त को होगी अगली सेलNokia 6 एंड्राइड स्मार्टफ़ोन की दूसरी सेल का आयोजन 30 अगस्त को अमेज़न इंडिया पर किया जाना है. इस स्मार्टफ़ोन की कीमत Rs 14,999 रखी गई है. पहली सेल के तहत यह स्मार्टफ़ोन सिर्फ एक मिनट के अंदर ही सोल्ड आउट हो गया था. इस फ़ोन के लिए 1.2 मिलियन लोगों ने रजिस्ट्रेशन किया था.Nokia 6 स्मार्टफोन के फीचर्स के बारे में बात करें तो इसमें 5.5 इंच की फुल HD 2.5D डिस्प्ले मौजूद है जो कोर्निंग गोरिल्ल्ला ग्लास से लैस है. फ़ोन को अनलॉक करने के लिए इसमें एक फिंगर फिंगरप्रिंट सेंसर भी दिया है. Nokia 6 एंड्राइड 7.0 नूगा पर काम करता है. कंपनी ने इस पॉवर देने के लिए स्नैपड्रैगन 430 प्रोसेसर का इस्तेमाल किया है. इसमें 3GB रैम भी दी गई है. यह 32GB इनबिल्ट स्टोरेज के साथ आता है, जिसे माइक्रो SD कार्ड द्वारा 128GB तक बढ़ाया जा सकता है. इस स्मार्टफोन में 3000mAh की बैटरी मौजूद है.Nokia 6 स्मार्टफोन में 16 मेगापिक्सल का रियर सेंसर मौजूद है, वहीं फ्रंट कैमरे पर 8 मेगापिक्सल का कैमरा उपलब्ध है और दोनों ही कैमरे f/2.0 अपर्चर के साथ आते हैं. इस हैंडसेट में कनेक्टिविट…

फैशन डिजाइनर तो नहीं बनीं, लेकिन खड़ी कर ली 2 करोड़ की कंपनी

फैशन डिजाइनर तो नहीं बनीं, लेकिन खड़ी कर ली 2 करोड़ की कंपनीअदिति ने खुद के दमपरकरीब दो करोड़ से अधिकटर्नओवर का बिजनेसस्थापित किया। लेकिन उन्हें इसबात का डर था कि उसका परिवार उसके बिजनेस को कहीं बंद न करवा दे। इसी कारण अदिति ने दो साल पहले नौकरी छोड़ने के बाद भी घर वालों को इस पूरे बिजनेस की जानकारी तक नहीं दी। लेकिनआजजब चारों तरफ अदिति के नाम का डंका बज रहा है तो परिवार के लोग भी उसकी खुशी में शरीक हो रहे हैं।ग्रैजुएशन के बाद अदिति चौरसिया की इच्छा थी कि वहफैशनडिजाइनिंग की पढ़ाई करेंगी, लेकिनपरिवार ने इसकी अनुमति नहीं दी।क्या पता था, कि आगे चलकर अदिति इससे भी कुछ बड़ा करने वाली हैं।

पढ़ाई पूरी होते ही अदिति ने एकबिजनेस शुरू किया जिसे 'तितलियां' नाम दिया। बिजनेस के तहत वे कस्टमाइज्डहैंडमेडकार्डबनाकर बेचती थीं। बिजनेस चला तो देश-विदेश से ऑर्डर आने लगे। परिवार को पता चला तो उन्होंने बिजनेस को बंदकरवाकर अदिति को कहा कि सिर्फ नौकरी परध्यान दो, ये बिजनेसमत करो।एक महिला की इच्छाशक्ति वो ताकत होती है जो बड़े-बड़े पहाड़ों को भी झुकने पर मजबूर कर देती है। जब वो अपने मन में कुछ ठान लेती …

फैशन डिजाइनर तो नहीं बनीं, लेकिन खड़ी कर ली 2 करोड़ की कंपनी

फैशन डिजाइनर तो नहीं बनीं, लेकिन खड़ी कर ली 2 करोड़ की कंपनीअदिति ने खुद के दमपरकरीब दो करोड़ से अधिकटर्नओवर का बिजनेसस्थापित किया। लेकिन उन्हें इसबात का डर था कि उसका परिवार उसके बिजनेस को कहीं बंद न करवा दे। इसी कारण अदिति ने दो साल पहले नौकरी छोड़ने के बाद भी घर वालों को इस पूरे बिजनेस की जानकारी तक नहीं दी। लेकिनआजजब चारों तरफ अदिति के नाम का डंका बज रहा है तो परिवार के लोग भी उसकी खुशी में शरीक हो रहे हैं।ग्रैजुएशन के बाद अदिति चौरसिया की इच्छा थी कि वहफैशनडिजाइनिंग की पढ़ाई करेंगी, लेकिनपरिवार ने इसकी अनुमति नहीं दी।क्या पता था, कि आगे चलकर अदिति इससे भी कुछ बड़ा करने वाली हैं।

पढ़ाई पूरी होते ही अदिति ने एकबिजनेस शुरू किया जिसे 'तितलियां' नाम दिया। बिजनेस के तहत वे कस्टमाइज्डहैंडमेडकार्डबनाकर बेचती थीं। बिजनेस चला तो देश-विदेश से ऑर्डर आने लगे। परिवार को पता चला तो उन्होंने बिजनेस को बंदकरवाकर अदिति को कहा कि सिर्फ नौकरी परध्यान दो, ये बिजनेसमत करो।एक महिला की इच्छाशक्ति वो ताकत होती है जो बड़े-बड़े पहाड़ों को भी झुकने पर मजबूर कर देती है। जब वो अपने मन में कुछ ठान लेती …

जिस बस स्टॉप पर मांगती थी भीख, आज उसी इलाके की हैं जज

जिसबसस्टॉपपर मांगती थी भीख, आज उसी इलाके की हैं जजमंडला देश की पहली महिला ट्रांसजेंडर है जिन्होने राष्ट्रीयलोकअदालततक का सफरतय किया। हमारे देश के लिए इससे बड़ी गर्व की क्या बात होगी कि एकट्रांसजेंडरराष्ट्रीयलोकअदालत की न्यायाधीश हैं।हाथ में माइक लिए जोयिता मंडल। फोटो साभार: ट्विटर"जिसबसस्टॉपपरभीख मांगती थीं, आज उसी इलाके की जज हैं ये ट्रांसजेंडर"

जहां दुनिया अभी ट्रांसजेंडर को लेकरसंकोच में है वहीं दूसरी ओर जोयिता एकसार्थकजवाब हैं उन लोगो के लिए जो अपनी मानसिकता में बदलाव नहीं ला पा रहे हैं।कहते हैं कोशिश करने वालो की हार नहीं होतीऔर जिसने दृढ़ निश्चय कर लिया उसके लिए तो अपनेलक्ष्यको हासिल करना और भी आसान हो जाता है। ऐसा ही कुछ इस समय जोयिता मंडलमहसूस कर रही है । जोयिता देश की पहली महिला ट्रांसजेंडर है जिन्होंने राष्ट्रीयलोकअदालत तक का सफर तय किया। हमारे देश के लिए इससे बड़ी गर्व की क्या बात होगी कि एक ट्रांसजेंडर राष्ट्रीय लोक अदालत कीन्यायाधीश हैं। एक ट्रांसजेंडर होकर इस मुकाम तक पहंचना जोयिता के लिए आसान नहीं था। ये मुकाम जोयिता के लिए इसलिए भी खास है क्येंकि वो एक ट्रांसज…

लेनोवो का हाईएंड डिवाईस के8 नोट हुआ लॉन्च, कीमत बेहद कम और स्पेसिफिकेशन्स दमदार

लेनोवो का हाईएंड डिवाईस के8 नोट हुआ लॉन्च, कीमत बेहद कम और स्पेसिफिकेशन्स दमदारपिछले महीने लेनोवो ने सोशल मीडिया पर जानकारी दी थी कि जल्द ही कंपनी नया फोन लाने वाली है। इसी के बाद से चर्चा शुरू हो गई थी कि कंपनी लोनोवो के8 नोट को भारत में लॉन्च करने वाली है। वहीं आज इस फोन से पर्दा उठा दिया गया है। लेनोवो का यह फोन बेहद ही दमदार है और इसमें कोई शक नहीं कि यह अब तक का सबसे ताकतवर नोट फोन है। लेनोवो के8 नोट की शुरूआती कीमत 12,999 रुपये है और यह आॅनलाइन स्टोर अमेजन इंडिया पर उपलब्ध है। इस फोन की खरीदारी 18 अगस्त से की जा सकती है। आगे हमने लेनोवो के8 नोट के स्पेसिफिकेशन की जानकारी विस्तार से दी है।
डिसप्ले: लेनोवो के8 नोट को 5.5-इंच फुल एचडी डिसप्ले के साथ पेश किया गया है। वहीं फोन की स्क्रीन कोर्निंग गोरिल्ला ग्लास 3 कोटेड है जो इसे मजबूती प्रदान करते हैं और खरोंच से बचाते हैं। कंपनी का दावा है कि नोट 6 की अपेक्षा इसकी स्क्रीन ज्यादा बेहतर है।प्रोसेसर: लेनोवो के8 नोट को मीडियाटेक एक्स23 एमटी6797डी चिपसेट पर पेश किया गया है। यह विश्व का पहला फोन है जिसे इस चिपसेट पर पेश किया गया है। फोन म…

फैशन डिजाइनर तो नहीं बनीं, लेकिन खड़ी कर ली 2 करोड़ की कंपनी

फैशन डिजाइनर तो नहीं बनीं, लेकिन खड़ी कर ली 2 करोड़ की कंपनी

अदिति ने खुद के दम पर करीब दो करोड़ से अधिक टर्नओवर का बिजनेस स्थापित किया। लेकिन उन्हें इस बात का डर था कि उसका परिवार उसके बिजनेस को कहीं बंद न करवा दे। इसी कारण अदिति ने दो साल पहले नौकरी छोड़ने के बाद भी घर वालों को इस पूरे बिजनेस की जानकारी तक नहीं दी। लेकिन आज जब चारों तरफ अदिति के नाम का डंका बज रहा है तो परिवार के लोग भी उसकी खुशी में शरीक हो रहे हैं।ग्रैजुएशन के बाद अदिति चौरसिया की इच्छा थी कि वह फैशन डिजाइनिंग की पढ़ाई करेंगी, लेकिन परिवार ने इसकी अनुमति नहीं दी।क्या पता था, कि आगे चलकर अदिति इससे भी कुछ बड़ा करने वाली हैं।

पढ़ाई पूरी होते ही अदिति ने एक बिजनेस शुरू किया जिसे 'तितलियां' नाम दिया। बिजनेस के तहत वे कस्टमाइज्ड हैंडमेड कार्ड बनाकर बेचती थीं। बिजनेस चला तो देश-विदेश से ऑर्डर आने लगे। परिवार को पता चला तो उन्होंने बिजनेस को बंद करवाकर अदिति को कहा कि सिर्फ नौकरी पर ध्यान दो, ये बिजनेस मत करो।एक महिला की इच्छाशक्ति वो ताकत होती है जो बड़े-बड़े पहाड़ों को भी झुकने पर मजबूर कर देती है। जब वो अपने मन …